डोकलाम को लेकर भारत को धमकी देने वाली चीन की आर्मी की हालत देखकर आप भी कहेंगे कि ये लड़ेंगे भारत से

loading…



इन दिनों रूस में इंटरनेशनल आर्मी गेम्स जैसी प्रतियोगिता चल रही है, इस प्रतियोगिता में कई बड़े देशों की सेना के टैंकों के बीच एक जबरदस्त मुकाबला हो रहा है. आपको बता दें कि जो चीन आये दिन भारत को धमकियाँ देता रहता है और अपनी औकात से ज्यादा बोलता दिखाई देता है आज उसी चीन ने इस प्रतियोगिता के दौरान भारत के टैंकों के सामने अपने घुटने टेक दिए.





दरअसल इस गेम के दौरान जब चीन का नंबर आया तो उसका टैंक लड़खड़ा गया जिसके बाद टैंक के कई अलग-अलग हिस्से भी हो गए और इतना ही नहीं बल्कि इस रेस के दौरान तो चीन के टैंक का पहिया ही अलग हो गया था.

source

चीन द्वारा इतनी शर्मिंदगी देखने के बाद अब चीन का भारत में जमकर मज़ाक उड़ाया जा रहा है कि चीन इसलिए हारा है क्योंकि उनका टैंक भी तो चीन का माल है इसलिए उसपर भी यकीन नहीं किया जा सकता है कि कितना चलेगा…

source

फिलहाल तो इस प्रतियोगिता में पहले स्थान पर रूस की सेना ने बाजी मारी है और भारत चौथे नंबर के पायदान पर मौजूद रहा. जिसके चलते भारतीय सेना अब इस प्रतियोगिता के दूसरे राउंड में चली गई है.

source

इंटरनेशनल आर्मी गेम्स का अगला राउंड अब अगले तीन दिन तक चलेगा, जिसमें भारतीय सेना का मुकाबला 10 अगस्त को होने वाला है जिसमें भारतीय सेना अपना शौर्य दिखाएगी. साथ ही आपको बता दें की इस बार केवल टैंकों की रेस ही नहीं बल्कि हथियार चलाने के भी गेम होंगे.



source

सूत्रों की मानें तो इस बार दूसरे राउंड में 48 किलोमीटर की रिले रेस भी होगी और जिसमें केवल एक ही टैंक होगा उसी के द्वारा सभी देशों को अपना करतब दिखाना होगा. इस राउंड में जो भी देश टॉप 4 पर होंगे वो ही देश अगली रेस के लिए भेजे जायेंगे जो की 12 अगस्त को होने वाली है और यह ही रेस आखिरी रेस कहलाएगी. इसी दिन दूध का दूध पानी का पानी हो जायेगा की किस्में कितना है दम.

source

इस इंटरनेशनल आर्मी गेम्स प्रतियोगिता में कुल 19 देशों ने हिस्सा लिया था, जिसमें भारत, चीन, कजाकिस्तान, रूस, जैसे देश शामिल हैं. आपको बता दें कि इस तरह के अंतरराष्ट्रीय सैन्य खेलों में लगभग 28 कार्यक्रम होते हैं और जिनका आयोजन रूस, कजाखिस्तान, चीन और बेलारूस में होता है.



source

भारतीय सेना की टीम पिछले तीन वर्षों से इस प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही है. साथ ही सेना ने बताया है कि  ‘‘इस साल पहली बार भारतीय टीम अपने टी 90 टैंकों के साथ हिस्सा लेगी जिन्हें जहाज द्वारा रूस भेजा गया है.’’

देखें वीडियो

source:insistpost.com

 

loading…