पाकिस्तान में बम धमाका! बाल बाल बचे नवाज शरीफ, हमले में 35 लोग घायल…

loading…



पाकिस्तान के लाहौर में बीती रात एक बडी खबर आई है। दरअसल लाहौर के एक स्थान इलाके में बम धमाका हुआ है। वैसे तो अक्सर पाकिस्तान से बम धमाकों की खबरें आती ही रहती हैं। लेकिन इस बार के धमाके में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ बाल बाल बचे हैं। बताया जा रहा है कि यह हमला पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को निशाना बना कर किया गया था। लेकिन खुशकिस्मती से इस हमले में नवाज शरीफ बच गए। आपको पता ही होगा कि नवाज शरीफ को पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने पनामा पेपर लीक कांड में प्रधानमंत्री के पद से बर्खास्त कर दिया है। उसके बाद ऐसा हमला होना कई सवाल खड़े करता है। आइए आपको बताते हैं हमले की पूरी सच्चाई।



कई लोग हुए घालय दो लोगों की मौत :

पाकिस्तान के लाहौर में हुए बम विस्फोट में करीब 35 लोगों के घायल होने की बात की जा रही है। और दो लोगों की मौत की खबर आ रही है। घायलों में ज्यादातर बच्चे और महिलाएं शामिल है। जिनको इलाज के लिए पास के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं इलाके में आपात स्थिति की घोषणा भी कर दी गई है। इस हमले के पीछे कुछ बडे आतंकियों के होने की आशंका जताई जा रही है हालांकि पुलिस को अभी तक विस्फोट के कारण की जानकारी नहीं मिली है। ना ही किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। लेकिन पुलिस ने हमले की जांच शुरु कर दी है।

हमले में कैसे बचे नवाज शरीफ :

यह बम विस्फोट लाहौर के बुंद रोड इलाके में हुआ। नवाज शरीफ इसी रोड से गुजरने वाले थे। यह ब्लास्ट बुंद इलाके से गुजर रहे एक ट्रक में हुआ। ट्रक में फल लदे थे। और जैसे ही वह हाईटेंशन बिजली तार से संपर्क में आया, उसमें ब्लास्ट हो गया। आशंका जताई जा रही है कि ट्रक में विस्फोटक था। विस्फोटक स्थानीय समयानुसार नौ बजे फटा। विस्फोटक उपकरण आउट फॉल रोड पर ट्रक में छुपा कर रखा गया था। जिसके कारण विस्फोट हुआ शरीफ पहले मशहूर ग्रांड ट्रंक रोड के रास्ते इस्लामाबाद से लाहौर लौटने वाले थे जिसे बाद में टाल दिया गया था। जांच अधिकारियों ने भी आशंका जताई है कि शरीफ निशाने पर हो सकते हैं।

कुछ दिन पहले भी हो चुके हैं हमले :





आतंकियों को शरण देने वाला पाकिस्तान अब खुद ही आतंकवादियों से परेशान है। यह आतंकवादी अब पाकिस्तान में ही हमला कर के लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं। कुछ दिन पहले लाहौर में भी कई आतंकी हमले देखने को मिले है। 24 जुलाई को एक तालिबानी आत्मघाती हमलावर ने यहां पंजाब के सीएम शाहबाज शरीफ के आवास और कार्यलय के नजदीक पुलिस की एक टीम पर हमला कर दिया था जिसमें एक पुलिसकर्मी समेत 27 लोग मारे गए थे।इस से पहले अप्रैल में भी लाहौर के बेडैन रोड पर जनसंख्या का आंकड़ा एकत्र करने वाली एक टीम पर एक आत्मघाती हमला हुआ था। जिसमें 6 लोग मारे गए थे और 15 घायल हो गये थे। फरवरी में पंजाब विधानसभा के निकट एक आत्मघाती हमले में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सहित 14 लोग मारे गये थे। आतंक का ठिकाना कहे जाने वाला पाकिस्तान अब खुद ही आतंकवादियों का निशाना बन गया है पिछले कई महीनों से आतंकवादियों ने पाकिस्तान की नाक में दम कर रखा है

loading…