ऋतिक रोशन के ससुर संजय खान पर टूटा योगी का कहर, सामने आयी चौंकाने वाली हकीकत जान भौचक्की रह गयी देश की जनता

लखनऊ : यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सत्ता संभालते के साथ ही ताबड़तोड़ फैसले लेने शुरू कर दिए. हार-जीत की परवाह किये बिना और बिना किसी तुष्टिकरण के योगी आदित्यनाथ की सरकार में फैसले लिए जाते हैं. एक बार फिर योगी सरकार ने एक शानदार फैसला लिया है, जिसे देख देश के तथाकथित सेकुलरों की परेशानी बढ़ सकती है.

 

ऋतिक रोशन के ससुर संजय खान को 608 करोड़ का नोटिस

बॉलिवुड अभिनेता और फिल्म निर्माता संजय खान को योगी सरकार ने 608 करोड़ का नोटिस भेजा है. ये नोटिस उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम (यूपीएसआईडीसी) द्वारा भेजा गया है.




दरअसल दरअसल साल 2014 में सपा के शाषन काल में आगरा में थीम पार्क की स्थापना करने का निर्णय लिया गया था. संजय खान ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यकाल के दौरान आगरा में थीम पार्क बनाने के लिए एमओयू किया था. लेकिन सरकार बदलते ही संजय खान ने इस प्रॉजेक्ट से हाथ पीछे खींच लिए.

वहीँ यूपीएसआईडीसी का कहना है कि प्रॉजेक्ट के लिए जमीन तलाशने का काम उन्हें दिया गया था और रायपुर व रहनकला गांव में एक हजार एकड़ भूमि अधिग्रहीत की गई थी. इसी के चलते विभाग ने बैंक से 600 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था. अब उनके कर्ज पर आठ करोड़ रुपये ब्याज हो गया है, इसलिए कुल 608 करोड़ रुपये की देनदारी का नोटिस संजय खान को भेजा गया है.

संजय खान ने ली थी प्रॉजेक्ट की जिम्मेदारी

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आगरा में थीम पार्क बनाने की घोषणा की थी. यूपीएसआईडीसी को थीम पार्क बनाने का जिम्मा दिया गया था और अभिनेता संजय खान ने प्रॉजेक्ट की जिम्मेदारी ली थी. पूर्व सीएम और संजय खान के बीच एमओयू (सहमति पत्र) भी साइन हुआ था. संजय खान की कंपनी ने यूपीएसआईडीसी से जमीन उपलब्ध कराने की बात कही थी, ताकि उस पर निर्माण संबंधी कार्य हो सकें.

यूपीएसआईडीसी के एमडी रणवीर प्रसाद ने बताया कि उन्होंने यमुना एक्सप्रेसवे को जोड़ने वाली रिंग रोड के आस-पास जमीन चिन्हित की और बैंक से कर्ज लेने के बाद 2015 में किसानों से 1000 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया था. कंपनी ने यहां कुछ अफसर और कर्मचारी भेजे, लेकिन 2017 में अचानक काम बंद कर दिया गया.





यूपीएसआइडीसी ने रद्द किया करार

अनुबंध की शर्तों के अनुसार संजय खान की जिम्मेदारी थी कि वे 17 मई, 2017 तक भूमि का मूल्य यूपीएसआइडीसी को जमा कर देते, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. एमडी ने बताया कि इस बीच विभाग की तरफ से संजय खान और उनकी कंपनी के अधिकारियों से कई बार संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया.

21 नवंबर, 2017 को यूपीएसआइडीसी ने उन्हें नोटिस जारी कर हर हाल में 60 दिन में धनराशि जमा करने के लिए कहा, लेकिन संजय खान ने यह राशि जमा नहीं कराई. इसीलिए यूपीएसआइडीसी ने संजय खान के साथ आगरा में एक हजार एकड़ भूमि पर प्रस्तावित थीम पार्क का करार रद्द कर दिया.

पैसे चुकाओ वरना अंजाम भुगतो

अब उन्हें फिर से नोटिस भेजा गया है. यदि इस नोटिस के बाद भी संजय खान ने रुपयों की अदायगी नहीं की, तो संजय खान और उनकी कंपनी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

संजय खान की शादी जरीन खान से हुई है. इनके चार बच्चे बेटा जायद खान और बेटी फराह, सुजैन और सिमोन हैं. यही नहीं सुजैन की शादी बॉलीवुड स्टार ऋतिक रोशन से हुई थी लेकिन अब दोनों का तलाक हो चुका है, यानि संजय खान ऋतिक रोशन के ससुर भी हैं.




बहरहाल बड़े अभिनेता हों या कोई नेता, योगी सरकार में बिना किसी भेदभाव के सभी को सामान भाव से देखा जाता है और इसका सबसे बड़ा उदाहरण योगी सरकार के इस फैसले से साफ़ झलकता है. योगी ने स्पष्ट संकेत दिए हैं कि कोई भी सरकार के साथ विश्वासघात नहीं कर सकता. जनता के पैसों से बैंकों का ब्याज नहीं भरा जाएगा बल्कि उसी से वसूला जाएगा, जिसके कारण सरकार पर ब्याज का बोझ आया है. बड़ा अभिनेता हो या कोई नेता, जो भी सरकार को चूना लगाने की कोशिश करेगा, उसके साथ सख्ती से निपटा जाएगा.

loading…


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *